Home / All Sections / मोदी ने देश में लगा दी अघोषित आर्थिक इमरजेंसी : मायावती
Chief Minister of the state of Uttar Pradesh, Mayawati addresses the media during a press conference in Lucknow
Chief Minister of the state of Uttar Pradesh, Mayawati addresses the media during a press conference in Lucknow

मोदी ने देश में लगा दी अघोषित आर्थिक इमरजेंसी : मायावती

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने कहा कि प्रधानमंत्री के निर्णय से आर्थिक इमरजेंसी का माहौल बन गया है। मोदी कमियों को छुपाने के लिए देश में इमरजेंसी का माहौल बना रहे हैं।
लखनऊ । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 तथा एक हजार रुपये के नोट को बंद करने के फैसले पर बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने बेहद तीखी प्रतिक्रिया दी है। अन्य राजनीतिक दलों के एक दिन के बाद मायावती ने अपनी प्रतिक्रिया में पीएम से इस निर्णय को देश में अघोषित आर्थिक इमरजेंसी बताया है।लखनऊ में आज बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने मीडिया से कहा कि प्रधानमंत्री के इस निर्णय से देश में आर्थिक इमरजेंसी का माहौल बन गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ढाई वर्ष के अपने शासन की सारी कमियों को छुपाने के लिए अब देश में इमरजेंसी का माहौल बना रहे हैं। उनका 500 तथा एक हजार रुपये का नोट बंद करने का फैसला अघोषित आर्थिक इमरजेंसी है। मायावती ने कहा कि देश की 90 फीसदी जनता केंद्र सरकार की नीतियों से बेहद ही परेशान है है। किसी भी योजना पर केंद्र सरकार की नीयत साफ नहीं है।

देश के लोग परेशान हैं।
मायावती ने कहा कि आम जनता का दैनिक जीवन रुका है। पीएम की घोषणा के बाद रात में ही लोग घरों के बाहर निकले। पीएम मोदी के के एलान के बाद देश में भूकम्प जैसे हालात हैं। नोट रात में बंद करना सही कदम नहीं। नोट बंद होने से हाहाकार मचा हुआ है। उन्होंने फैसले को प्रथम दृष्टया व्यापक जनहित व देशहित का न बताते हुए कहा कि मोदी ने ऐसा अपनी कमियों व विफलताओं पर से जनता का ध्यान हटाने के मकसद से किया है। मायावती ने कहा कि भाजपा सरकार का यह फैसला कुल मिलाकर जनहित में कम व लोगों को तकलीफ देकर आनन्दित होने का ज्यादा लगता है।
भाजपा ने देश का काला धन विदेश भेज दिया है
मायावती ने कहा कि नरेंद्र मोदी के ढाई वर्ष के कार्यकाल में भारतीय जनता पार्टी ने अपने को मजबूत करने का सारा बंदोबस्त कर लिया है। भाजपा ने देश का काला धन विदेश भेज दिया है। भाजपा ने अगले सौ वर्ष के लिए अपनी आर्थिक मजबूती कर ली है। भाजपा ने अभी तक देश में पूंजीपतियों को लाभ पहुंचने के लिए योजनाएं चलाई हैं। ढाई साल मे मोदी ने धन्नासेठों को लाभ पहुंचाया है।

सीमा पर लगातार सैनिक शहीद हो रहे हैं
मायावती ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार आरएसएस के डंडे के इशारे पर काम करती है। देश की सीमाएं पहले की तरह असुरक्षित बनी हैं। सीमा पर लगातार सैनिक शहीद हो रहे हैं। सीमा पर भाजपा ने ढाई साल बाद कदम उठाया है। यह सरकार जनता का ध्यान भटकाने में काफी माहिर है। केंद्र की बीजेपी सरकार की मंशा साफ नहीं है। बड़ी-बड़ी बाते करने वाली भाजपा की सरकार ने देा में भ्रष्टाचार और कालेधन पर काफी विलंब कर दिया है।मायावती ने कहा कि नोट बंद होने पर लोग कैसे जश्न मना पाएंगे। लगता है पीएम मोदी समझते हैं कि मेहनत करने वाले लोगों के पास काला धन है। देश की जनता को तकलीफ में पहुंचाया गया। जनता अब बीजेपी एंड कम्पनी के लोगों को सजा देगी। अब तो भाजपा परिवर्तन यात्रा के साथ पीएम की परिवर्तन रैली भी कर लें। जनता उनको सबक सिखाने को तैयार है। भाजपा गरीबों का नहीं देश के धन्ना सेठों पर ध्यान दे रही है। भाजपा ने गरीबों व किसानों पर आर्थिक चोट पहुंचाई है। आने वाले चुनाव में भाजपा को सजा मिलेगी। भाजपा के लोगों की पेट्रोल पम्पों से सांठगांठ हुई। मेडिकल स्टोरो पर लोगों को दवा नहीं मिल रही। पेट्रोल पम्पों में लोगों को बहुत परेशानी हुई। नोट बंदी होने से पेट्रोल पम्पों की चांदी हुई। सीएम रहते मोदी ने अपने समाज को फायदा पहुंचाया। गरीब बच्चो के भविष्य के बारे मे नही सोचा। मोदी के फैसला लेते ही कालाबाजारी और बढ़ी। वह कम से कम झुग्गी-झोपडिय़ों के लोगों का दर्द समझे।

मायावती का दावा है कि विदेशों में बीजेपी ने अपनी आर्थिक मजबूत कर ली। यह मैं नहीं कह रही, भाजपा के बारे में यह जनता की राय है। छोटे कर्जदारों पर बैंक दबाव बनाती है। वह लोग तो आत्महत्या कर रहे हैं। भाजपा ने बड़े-बड़े धन्नासेठों का कर्जा माफ किया है।

About Maxx News

Check Also

JNU students protest at Rajnath’s house, 80 detained

Delhi Police on Friday detained a group of Jawaharlal Nehru University (JNU) students who tried ...

bsf-jammu-759

BSF says it killed Seven Pak Rangers, One militant in cross-border firing

The Border Security Force (BSF) on Friday said that seven Pakistan Rangers personnel and one ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *